झारखंडधर्म

कट्टर पंथ को बढ़ावा देकर भारत की राष्ट्रीय एकता को कमजोर करने की साजिश : कौसर मजीदी

Conspiracy to weaken India's national unity by promoting radical sect: Kausar Majidi

 

7 नवंबर 21
मधुपुर। सूफी खानकाह एसोसिएशन ाारखंड प्रदेश यूनिट के तत्वावधान में सलैया स्थित खानकाह बुरहानिया में जश्ने गौसुल वरा कांफ्रेंस और भारत जोड़ो गोष्ठी का आयोजन किया गया। पीरे तरीकत हजरत ख़्वाजा सूफी बुरहान हसन की अध्यक्षता में हुए कार्यक्रम में सूफी खानकाह एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सूफी मोहम्मद कौसर हसन मजीदी मुख्य अतिथि के रूप में सम्मिलित हुए।
सूफी कौसर मजीदी ने कहा कि भारत विश्व का महानतम संविधान धारण करने वाला देश है जहां भांति भांति के लोग निवास करते हैं। देश विरोधी गतिविधियों में लिप्त कुछ शक्तियां कट्टर पंथ को बढ़ावा देकर हमारी राष्ट्रीय एकता को कमजोर कर देना चाहती हैं। सूफी वादी परंपराएं देश को एकता के सूत्र में पिरोती हैं,लेकिन फतवे बाजी शक्तियां इन आयोजनों को अनैतिक और असंवैधानिक फतवे के जरिए रोकना चाहती हैं जो भारत के संविधान की खुली अवहेलना है,ये वो ताकतें हैं जो चरमपंथ के जरिए नौजवानों को गुमराह कर रही हैं जिससे नौजवानों को बचाने की आवश्यकता है। कौसर मजीदी ने आह्वान किया कि युवा देश सेवा और देश विरोधियों की साजिशों को नाकाम करने का संकल्प दिलाया। सूफी संत कुर्बान अली चिश्ती ने कहा कि यह जमीन चिश्ती और नानक की शिक्षाओं के जरिए लोगों को जोड़ने वाली है, कानून का पालन करते हुए हमें अपनी परंपराओं को आगे बढ़ाना चाहिए,भारत ही एकमात्र ऐसा देश है जहां पर मुसलमानों को अपनी आस्था के अनुरूप जिंदगी बिताने की पूरी आजादी हासिल है।

मौलाना मुस्लिम सीवानी मौलाना उजैर अहमद अशरफी सहित कई वक्ताओं और शायरों ने अपने विचारों को रखा। आयोजक सूफी खानकाह एसोसिएशन ­ाारखंड प्रदेश अध्यक्ष सूफी अलाउद्दीन हसन बुरहानी ने कार्यक्रम में आए लोगों का आभार व्यक्त किया। संचालन सूफी खानकाह एसोसिएशन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सूफी शराफत हुसैन चिश्ती ने किया। सूफी संत ख्वाजा बुरहान हसन के उत्तराधिकारी सूफी गुलाम मुस्तफा बुरहानी ने मुल्क की सलामती की दुआ कराई। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से ­ाारखंड प्रदेश महासचिव मुमताज शराफती,उत्तर प्रदेश उपाध्यक्ष सूफी शहाबुद्दीन, जिÞला अध्यक्ष देवघर इमामुद्दीन, जिÞला महासचिव यूसुफ बुरहानी, जिला उपाध्यक्ष गुलाम कादिर बाबा, सूफी निसार हसन, सूफी अब्बास अली, गिरिडीह जिÞला अध्यक्ष इमरान शराफती, महासचिव जिब्राइल अंसारी, जामताड़ा जिला अध्यक्ष अजहरुद्दीन अंसारी, धनबाद जिÞला उपाध्यक्ष सलमान खुर्शीद सहित सैंकड़ों लोग उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button