फ़र्रूख़ाबाद

क्षेत्र में टाइगर देखने से लोगों में दहशत वन विभाग टीम ने पिंजरा लगाया

शमसबाद फर्रुखाबाद 24webnews :- गाय का बछड़ा  पर टाइगर का हमला सूचना पर ग्रामीणो के हुजूम के साथ दौड़ी पुलिस तथा वन विभाग की टीम दहसत जदा ग्रामीणो ने पुलिस तथा बन बिभाग के अधिकारियों की मैजूदगी में की काम्बिंग बिबरण के अनुसार शमशाबाद क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में आजकल खूंखार जंगली जानवर टाइगर की दहशत बनी हुई है दहशत के साए में डूबे ग्रामीण घरों से निकलने को तैयार नहीं है यहां तक टाइगर को पकड़ने के लिए ग्रामीणों द्वारा पुलिस प्रशासन तथा बन विभाग का सहयोग लिया गया मगर अफसोस अभी तक सफलता हाथ नहीं मिल सकी इस खूंखार जानवर टाइगर को पकड़ने के लिए पुलिस प्रशासन द्वारा रोशनाबाद में ड्रोन उड़ाया गया था बताया गया है शमशाबाद थाना क्षेत्र के ही ग्राम रोशनाबाद के निकट पड़ोसी गांव सुतहडी जहा एक गन्ने के खेत मे कुत्ते का अधूरा सब मिलने के बाद ग्रामीणो में दहशत और बढ़ गई थी ग्रामीणो ने पुलिस प्रशासन तथा बन बिभाग के उच्चाधिकारियों तथा राजनीतिक जनप्रतिनिधियों को भी दी थी सूचना सूचना के दूसरे दिन बन बिभाग के एसडीओ ओमप्रकाश के नेतृत्व में वन विभाग के अधिकारी कर्मचारी मौके पर पहुंचे संयुक्त टीम ने टाइगर को पकड़ने के लिए ताना-बाना तैयार करते हुए पिजड़ा मंगवाया गया था ग्रामीणों के अनुसार पिजड़ा टूटा हुआ था जिसे सही कराने के लिए पड़ोसी गांव हसनापुर के एक कारखाने में भेजा गया था देर शाम पिंजडा तो लाया गया मगर टाइगर को पकड़ने के लिए कोई जनबर बकरा आदि नही मिला बन बिभाग के अधिकारियों का कहना था खूंखार जंगली जानवर जिसे पकड़ने के लिए बेहतर उपाय बकरे को पिजंडे में बंद किया जाए भोजन की तलाश में जब जनबर पिजड़े में घुसेगा तो फस जाएगा बताते है बन बिभाग के कर्मचारियों के साथ गांव में बकरे की तलाश की लेकिन बकरा नहीं मिल सक वन विभाग के अधिकारियों ने बताया बकरे की खरीदारी के बाद पिजंडे से टाइगर पकड़ने का प्रयास किया जाएगा बीते दिवस की रात्रि 11:00 के करीब पड़ोसी गांव दुबरी जहां एक पशुपालक ने सूचना देकर कहा कि उसकी गाय पर किसी जंगली जानवर द्वारा हमला किया गया जिस से घबराई गाय ने खूंटा उखाड़ कर घर के पास जा छिपी पास में सोए ग्रामीण दहसत में गए तो कुछ की घिग्गी बंध गयी उनका कहना था जंगली जानबर छलांग लगाता हुए गाय पर हमलाबर हुआ शोर शराबा सुन ग्रामीणो का हुजूम एकत्रित हो गया लेकिन जंगली जानवर का कुछ पता नहीं चल सका उधर ग्रामीणों की सूचना पर पीआरबी 112 के अलावा बन विभाग की टीम ने ग्रामीणों के साथ लाठी-डंडों के सहारे गांव में काम्बिंग की स्त्यता क्या यह तो ऊपर वाला ही जाने लेकिन कहीं ना कहीं कुछ ना कुछ जरूर है जिससे ग्रामीणों में दहशत का माहौल बना हुआ है यही कारण है ग्रामीण किसानों का सुख रातों की नींद हराम है क्षेत्र में टाइगर होने की सूचना पर दहशत के साए से जूझ रहे ग्रामीणों ने बताया वन विभाग की टीम द्वारा बकरे की खरीदारी के बाद पिजड़ा तैयार कर संदिग्ध खूंखार जानवर टाइगर को पकड़ने की कोशिश की गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button