Uncategorized

छुटभैया सत्ताधारी नेता के गनर ने बुलाकर पुलिस को पिटवाया

नवाबगंज(फर्रुखाबाद)
छुटभैया सत्ताधारी नेता के गनर ने बुलाकर पुलिस को पिटवाया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने नेता व उसकी सुरक्षा में लगे गनर को हिरासत में ले लिया। २४ घंटे बीत जाने के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं की गई।
जानकारी के अनुसार नवाबगंज थाना क्षेत्र के गांव पहाड़पुर नवादा निवासी लालजी ठाकुर भाजपा नेता गनर लेकर चलता है तथा गांव वालों तथा आसपास व पुलिस पर अपना रौब झाड़ते रहता है। बीती रात 12:00 बजे सूत्रों के मुताबिक 112 पीआरबी 2660 नेता लालजी ठाकुर की सुरक्षा में लगे गनर ने पुलिस को सूचना दी कि उनके नेता को गांव के दबंग मारपीट कर रहे हैं। सूचना पाकर 112 पीआरबी 2660 के चालक कमल सिंह अपने साथ सिपाही टिंकू कुमार तथा एक होमगार्ड को साथ लेकर घटनास्थल पर पहुंचे। पुलिस ने वहां मामले की जानकारी करना चाहिए। पुलिस को देख कर नेता आग बबूला हो गया और पुलिस को गोली से मारने की भी धमकी देेने लगा। यह देखकर पुलिस के हाथ पांव फूल गए। सिपाही टिंकू कुमार ने नेता का वीडियो बनाना शुरु कर दिया। यह देखकर नेता और आग बबूला हो गया और यह कहते हुए कि सरकार हमारी है सिपाही के साथ मारपीट शुरू कर दी। सिपाही के मुताबिक उसका 27000 का मोबाइल भी तोड़ डाला और मेरे साथ जमकर मारपीट की। घटना की सूचना थाना पुलिस व अधिकारियों को दी गई। सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गये और नेता व उनके गनर को अपने हिरासत में ले लिया। इस दौरान सिपाही टिंकू कुमार ने बताया कि मारपीट के दौरान इवेंट रजिस्टर भी फाड़ डाला है। घटना के पश्चात थानाध्यक्ष ने बताया कि पुलिस कर्मियों के साथ मारपीट करने के मामले में किसी को बक्शा नहीं जायेगा कठोर कार्यवाही की जायेगी, लेकिन देर शाम तक पता चला कि थाना पुलिस मारपीट करने वाले नेता के दबाव में आ गई है। जिसके चलते अब कोई कार्यवाही नहीं की जायेगी। वहीं क्षेत्राधिकारी मोहम्मदाबाद सोहराब आलम खान ने थानाध्यक्ष के साथ युवक से पूछताछ की। जब क्षेत्राधिकारी से पत्रकारों द्वारा पूछने पर बताया गया कि जब कोई तहरीर देने वाला ही नहीं है तो किस पर कार्यवाही करें। वही सरकारी गनर दिए जाने की बात जब पूछी गई तो बताया गया कि यह सुरक्षा समिति का मामला है, किस स्तर से गनर मिला है यह बड़े अधिकारी ही जाने। वहीं पीडि़त सिपाही ने बताया कि वह तो मारपीट की तहरीर देने के लिए तैयार है, लेकिन अधिकारी इस पर दबाव बना रहे है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *