उत्तर प्रदेशमुरादाबादशिक्षा

टीएमयू में सिस्टम मॉडलिंग एंड एडवांसमेंट इन रिसर्च ट्रेंड्स स्मार्ट-2021 का दसवां आयोजन दस से

Tenth event of System Modeling and Advancement in Research Trends SMART-2021 at TMU from ten to

08 दिसंबर 21, मुरादाबाद। तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी का फैकल्टी आफ इंजीनियरिंग एंड कम्प्यूटिंग साइंसेज एफओईसीएस इतिहास रचने जा रहा है, क्योंकि एफओईसीएस की यह सालाना इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस स्मार्ट 2021 का दसवां आयोजन हो रहा है। कॉन्फ्रेंस 10 और 11 दिसंबर को यूनिवर्सिटी कैंपस में ब्लेंडेड मोड में होगी। सिस्टम मॉडलिंग एंड एडवांसमेंट इन रिसर्च ट्रेंड्स स्मार्ट 2021 में टीएमयू के कुलाधिपति सुरेश जैन की गरिमामयी मौजूदगी रहेगी।

पढ़े जाएंगे 134 शोध पत्र

इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस के दौरान प्रोसीडिंग का विमोचन भी किया जाएगा। कॉन्फ्रेंस के 16 तकनीकी सत्रों में देश-विदेश के रिसर्चर्स आॅनलाइन और आफलाइन 134 शोध पत्र पढ़ेंगे। कॉन्फ्रेंस के अंत में प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र वितरित किए जाएंगे। कॉन्फ्रेंस के पहले दिन आईजी एटीएस, लखनऊ डॉ. जीके गोस्वामी मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहेंगे। मुरादाबाद के एसएसपी बबलू कुमार गेस्ट आॅफ आॅनर होंगे तो विशिष्ट अतिथि एवं मुख्य वक्ता चौधरी बंसीलाल विश्वविद्यालय, भिवानी, हरियाणा के कुलपति एंड टीएमयू के फाउंडर वीसी प्रो आर.के. मित्तल मुख्य वक्ता होंगे। कॉन्फ्रेंस में टीएमयू के कुलपति प्रोफेसर रघुवीर सिंह की भी उल्लेखनीय उपस्थिति रहेगी। कॉन्फ्रेंस चेयर और मुख्य वक्ता वोल्गोग्राड राज्य तकनीकी विश्वविद्यालय, रूस के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. डेनिला पैरिगिन, जनरल चेयर एवं मुख्य वक्ता आईआईआईटी, इलाहाबाद के आईटी विभाग के सेक्शन चेयर डॉ. सतीश कुमार सिंह भी वर्चुअली जुड़ेंगे। उद्घाटन सत्र के दौरान कॉन्फ्रेंस जनरल चेयर एवं एफओईसीएस के निदेशक एवं प्राचार्य प्रो. राकेश कुमार द्विवेदी कॉन्फ्रेंस की थीम प्रस्तुत करेंगे। टीएमयू के रजिस्ट्रार डॉ. आदित्य शर्मा और टीएमयू की एसोसिएट डीन डॉ. मंजुला जैन भी व्याख्यान देंगे। फर्स्ट डे वोट आॅफ थैंक्स असिस्टेंट डायरेक्टर- प्लेसमेंट श्री विक्रम रैना देंगे जबकि सेकेंड डे प्रो. आरसी त्रिपाठी मेहमानों और प्रतिभागियों का शुक्रिया अदा करेंगे।

दो दर्जन प्लस इन सब्जेक्ट्स पर मंथन

कॉन्फ्रेंस के दौरान भारत समेत रूस, यूनाइटेड किंगडम, रोमानिया, बहरीन, बांग्लादेश, हंगरी और सऊदी अरब के रिसर्चर्स उभरती तकनीकी, आईओटी और वायरलेस संचार, डिजिटल इंडिया पहल, संचार और नेटवर्क प्रसारण, सिग्नल छवि और संचार प्रौद्योगिकी, सम्मेलन ट्रैक, उपकरण, सर्किट, सामग्री और प्रसंस्करण, रोबोटिक्स, नियंत्रण, इंस्ट्रुमेंटेशन और स्वचालन, बायोमेडिकल इंजीनियरिंग और हेल्थकेयर टेक्नोलॉजीज, पावर, एनर्जी और पावर इलेक्ट्रॉनिक्स, शासन, जोखिम और अनुपालन, ब्लॉक चेन टेक्नोलॉजी, उद्योग 4.0, शिक्षा 4.0, सिस्टम मॉडलिंग और डिजाइन कार्यान्वयन जैसे विषयों पर कुल 134 शोध पत्र पढ़े जाएंगे। दूसरे दिन भारतीय सुदूर संवेदन संस्थान आईआईआरएस, देहरादून के निदेशक डॉ. प्रकाश चौहान मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहेंगे जबकि जनरल चेयर एवं मुख्य वक्ता आईआईटी, कानपुर के यांत्रिक इंजीनियरिंग विभाग के प्रो जे रामकुमार गेस्ट आॅफ आॅनर के रूप में शिरकत करेंगे। विशिष्ट अतिथि एवं मुख्य वक्ता आईआईटी, कानपुर के ईई विभाग के प्रो. निवास सिंह, जनरल चेयर एवं मुख्य वक्ता एमएनएनआईटी, इलाहाबाद के ईई विभाग के पूर्व सेक्शन चेयर प्रो. आशीष कुमार सिंह, जनरल चेयर एवं मुख्य वक्ता एमएमएमटीयू, गोरखपुर के ईई विभाग के सचिव डॉ. प्रभाकर तिवारी की उल्लेखनीय मौजूदगी रहेगी। कॉन्फ्रेंस चेयर एवं एफओईसीएस के विभागाध्यक्ष प्रो. अशेन्द्र कुमार सक्सेना स्वागत भाषण देंगे।

होंगे कुल 16 तकनीकी सत्र

तकनीकी सत्र के फर्स्ट डे विशिष्ट अतिथि एवं मुख्य वक्ता के रूप में बुंदेलखंड विश्वविद्यालय, झांसी के कंप्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग विभाग के डॉ. संजय कुमार गुप्ता, अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय, अलीगढ़ के इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार इंजीनियरिंग विभाग के डॉ. इमरान उल्लाह खान, चंडीगढ़ विश्वविद्यालय, चंडीगढ़ के अनुसंधान समन्वयक और प्रोफेसर डॉ. आनंद शुक्ला, गलगोटिया विश्वविद्यालय, ग्रेटर नोएडा के कंप्यूटिंग साइंस एंड इंजीनियरिंग स्कूल के प्रोफेसर डॉ. प्रशांत जौहरी, डीआईटी विश्वविद्यालय, देहरादून के डॉ. अजय नारायण शुक्ला, कोनेरु लक्ष्मईया एजुकेशन फाउंडेशन, वड्डेश्वरम, आंध्र प्रदेश के सीएसई विभाग के प्रोफेसर डॉ. संदीप कुमार, साउथ वैली यूनिवर्सिटी, मिस्र के सीई विभाग के प्रो. हम्माम अल्शजली शिरकत करेंगे। तकनीकी सत्र के सेकेंड डे विशिष्ट अतिथि एवं मुख्य वक्ता के रूप में भारती विद्यापीठ के कंप्यूटर अनुप्रयोग और प्रबंधन संस्थान बीवीआईसीएएम, नई दिल्ली के निदेशक प्रो. एमएन हुडा, जीजीएसआईपी विश्वविद्यालय, नई दिल्ली के सूचना संचार और प्रौद्योगिकी स्कूल के प्रोफेसर डॉ. संजय कुमार मलिक, राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेज, बांदा के आईटी हेड डॉ. विभाष यादव, शारदा विश्वविद्यालय, उज्बेकिस्तान की एसोसिएट डीन डॉ. पूजा, पेट्रोलियम और ऊर्जा अध्ययन विश्वविद्यालय, देहरादून की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. सुशीला दहिया, चंडीगढ़ विश्वविद्यालय, चंडीगढ़ के प्रोफेसर डॉ. राजीव कुमार, चितकारा विश्वविद्यालय, चंडीगढ़ के इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी संस्थान के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. अंबुज कुमार अग्रवाल, आम्रपाली ग्रुप आॅफ इंस्टीट्यूट, हल्द्वानी के कंप्यूटर विज्ञान और अनुप्रयोग संकाय के प्रोफेसर और चीफ प्रॉक्टर प्रो. एम.के. शर्मा, उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय, हल्द्वानी के कंप्यूटर विज्ञान और सूचना प्रौद्योगिकी स्कूल के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. आशुतोष कुमार भट्ट, जेएनयू, नई दिल्ली के कंप्यूटर और सिस्टम स्कूल के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. करन सिंह, वोल्गोग्राड राज्य तकनीकी विश्वविद्यालय, रूस के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. डेनिला पैरगिन, जीएलए विश्वविद्यालय, मथुरा के आईईटी, सीईए विभाग के एसोसिएट डीन और प्रोफेसर प्रो. दिलीप कुमार शर्मा, डैफोडिल यूनिवर्सिटी, ढाका, बांग्लादेश के सीएसई विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर मो. अब्दुस सत्तार, एएमयू, अलीगढ़ के कंप्यूटर इंजीनियरिंग विभाग के प्रो. मोहम्मद सरोश उमर, श्री माता वैष्णो देवी विश्वविद्यालय, जम्मू के कंप्यूटर विज्ञान और अभियांत्रिकी विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. मनोज कुमार गुप्ता शिरकत करेंगे।
..

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button