Uncategorized

तहसील अमृतपुर में बंद आवारा गोवंश को जनपद की सभी गौशालाओं में भेजने का सिलसिला गुरुवार देर रात्रि तक एडीएम सुभाष प्रजापति की अध्यक्षता में चलता रहा

अमृतपुर फर्रुखाबाद24webnews:- तहसील अमृतपुर में बंद आवारा गोवंश को जनपद की सभी गौशालाओं में भेजने का सिलसिला गुरुवार देर रात्रि तक एडीएम सुभाष प्रजापति की अध्यक्षता में चलता रहा। जिले के एडीएम सुभाष प्रजापति जहां बिना आराम देर रात्रि तक हाथ में डंडा लेकर आवारा गोवंश को ट्रक लोडर में चढ़ाने का काम करते रहे वही बीडीओ राजेपुर कौशल गुप्ता आग के पास से हटने का नाम नहीं ले रहे थे। सबसे अहम बात यह है कि जनपद के वरिष्ठ अधिकारियों के आने के बाद भी लापरवाह खंड विकास अधिकारी कुर्सी छोड़ने को तैयार नहीं थे। एडीएम सुभाष प्रजापति के साथ अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत नरेंद्र पाल सिंह, खनन अधिकारी राजीव रंजन, बीडीओ आलोक आर्य, बीडीओ गगनदीप सिंह, एडीओ पंचायत सत्यनारायण सिंह, ईओ रविन्द्र कुमार, तहसील दार, थाना अध्यक्ष संतकुमार पटेल सहित आलाधिकारियों ने बिना भूख प्यास जीतोड़ मेहनत की। वहीं डीआरडीए के एक बाबू नशे में इधर उधर बहस करते नजर आए। मौके पर मौजूद लोग सीडीओ और एडीएम की सराहना करते नहीं थक रहे थे वही बीडीओ राजेपुर को कोसने का काम हो रहा था। सबसे अहम बात यह है कि उप जिलाधिकारी अमृतपुर पदम सिंह के तहसील परिसर में हजारों की संख्या में आवारा गोवंश षड्यंत्र के तहत भरे जाते रहे उन्होंने कोई ठोस कदम उठाना भी उचित नहीं समझा।
वही जमीनी स्तर से जुड़े खंड विकास अधिकारी राजेपुर पर सवालिया निशान इसलिए उठ रहे हैं कि ग्रामीण आंचल से ग्राम प्रधान, सचिव, तकनीकी सहायक, रोजगार सेवक, पंचायत सहायक, केयर टेकर, सफाई कर्मी, स्वयं सहायता समूह सहित तमाम लोग बीडीओ से जुड़े होते हैं । इसके बावजूद भी उनको इतने बड़े षड्यंत्र का पता नहीं चला। खैर हरकत में आए प्रशासन ने तहसील अमृतपुर की नायब नाजिर आराधना सक्सेना के द्वारा अमृतपुर निवासी शिवकान्त मिश्रा, चंदाकांति निवासी रतनापुर कुबेरपुर, अमर सिंह निवासी परतापुर, साधू हरसिंहपुर,रनवीर निवासी हरिहरपुर, सोनू निवासी ग्राम नगरिया जवाहर राजेपुर, प्रमोद सिंह निवासी कुम्हरौर के साथ ही 20-25 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया।
इसी क्रम में तहसील अमृतपुर में बने गौशाला को चेक करने सुबह पहुंची मुख्य विकास अधिकारी एम अरुन्मोली ने संबंधित सचिव और जेई राजीव गोयल को आदेश दिया कि जल्द से जल्द गौशाला चालू करवाने का कार्य शुरू करें वही जेई राजीव गोयल ब ठेकेदार संजय पाठक ने गौशाला चालू करने के लिए एक हफ्ता का समय मांगा है मुख्य विकास अधिकारी ने कहा पैसे की कमी होने से नरेगा एवं अन्य सरकारी योजनाओं से पैसे जोड़कर जल्द से जल्द कार्य करवाना शुरू करे। जेसीबी से मिट्टी डलवाकर चारो तरफ दीवार बनाने के आदेश उपजिलाधिकारी पदम सिंह को दिए और साथ ही तहसील में मवेशियों को पकड़ रहे दौलतपुर चकई के लोग ने प्रधान पति के साथ मुख्य विकास अधिकारी से मौखिक शिकायत की उन्होंने बताया कि हमारे यहां रहने की कोई व्यवस्था नहीं है इसी के चलते मुख्य विकास अधिकारी ने ग्रामीणों को सांत्वना देते हुए कहा जैसे ही ग्रामीण आवास योजना की सूची तैयार की जाएगी आप सभी का नाम संबंधित प्रधान और सचिव के द्वारा उसमें लिखा जाएगा। बताना जरूरी है कि पूरे प्रकरण में संलिप्त लापरवाह प्रधानों के भी विकास कार्यों की सीडीओ ने जांच कराने की बात कही है। अमृतपुर तहसील में बंद मवेशियो को लदवाने का कार्य बीते 4 दिनों से चल रहा है आज पांचवे दिन 10 बजे पहुँची मुख्य विकास अधिकारी एम अरूनमोली ने तहसील पहुंचकर खंड विकास अधिकारी को फटकार लगाते हुए कहां कि जल्द से जल्द सभी गायों को गौशाला पहुंचाया जाए। हजारों बेसहारा मवेशीओ को यहां से लादकर गौशाला भेजा जा चुका है तकरीबन 200 बेसहारा मवेशी आज भी तहसील परिसर में मौजूद है मुख्य विकास अधिकारी के पहुंचने पर गौवंशों को लादने का कार्य तेजी से होना शुरू हुआ । संबंधित कर्मचारियों को निर्देश दिए कि शाम तक किसी भी तरह से सभी मवेशियों को गौशाला पहुंचाया जाए। इस मौके पर बीडीओ कायमगंज मोहम्मद आरिफ, बीडीओ शमशाबाद मोहम्मद समीम, बीडीओ मोहम्मदाबाद, एडीओ पंचायत बढपुर सत्य नारायण सिंह, ईओ नगरपालिका फर्रुखाबाद रवींद्र कुमार आदि मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button