त्रिपुरापश्चिम बंगालराजनीति

त्रिपुरा हिंसा : टीएमसी का दिल्ली में धरना, गृह मंत्री से मुलाकात की मांग पर अड़े

Tripura Violence: TMC picket in Delhi, adamant on demand to meet Home Minister

22 नवंबर 21
नई दिल्ली : त्रिपुरा हिंसा को लेकर अब सियासत तेज हो गई है। प्रदेश सरकार की आरोपियों पर कार्रवाई में हीलाहवाली और पीड़ित पक्ष की मदद नहीं करने के खिलाफ पश्चिमी बंगाल तृणमूल कांग्रेस ने दिल्ली में धरना शुरू कर दिया है। टीएमसी के कार्यकर्ता केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिलने की मांग पर अड़े हैं। सरकारी अधिकारियों द्वारा आंदोलनकारियों को सम­ााने की कोशिश की जा रही है।

नेता सयानी घोष की गिरफ्तारी का विरोेध

याद रहे कि पश्चिम बंगाल तृणमूल कांग्रेस त्रिपुरा हिंसा के खिलाफ आंदोलन कर रही है। उन्होंने अदालत में भी हिंसा पर सरकार के रवैये को लेकर याचिका दायर की हैै। गौरतलब है कि टीएमसी की राज्य सचिव सयानी घोष को शनिवार रात हुई सभा के दौरान मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब को धमकी देने के आरोप व हत्या के प्रयास की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज गिरफ्तार कर लिया गया। इसी मुद्दे पर टीएमसी के सांसदों ने सोमवार दोपहर में दिल्ली में ेधरना दिया है। धरना देने वाले टीएमसी कार्यकर्ता अमित शाह से मिलने की मांग कर रहे हैं। उन्होंने त्रिपुरा में हिंसा कराने के साथ सयानी घोष की गिरफ्तारी को असंवैधानिक बताते हुए विरोध किया है।

त्रिपुरा में कई जगह हुआ था हमला

दरअसल, पिछले महीने हिंदू संगठनों ने बंग्ला देश में हिंदुओं पर अत्याचार के खिलाफ रैली निकालने के साथ त्रिपुरा में मुसलमानोंं के घरों, व्यावसायिक स्थलों के धार्मिक स्थलों पर हमला किया था। धार्मिक स्थलों में तोड़फोड़ के कई फोटो और वीडियो वायरल हुए थे। हालांकि त्रिपुरा सरकार इस मुद्दे पर हमलावरों का बचाव करती रही है। पक्षपात और नाइंसाफी को लेकर टीएमसी ने आंदोलन शुरू किया है। पुलिस अब टीएमसी नेताओं को भी गिरफ्तार करने लगी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button