उत्तर प्रदेशफ़र्रूख़ाबादराजनीति

देव कठेरिया, युवा बसपा नेता एवं पूर्व जिला सचिव (बहुजन समाज पार्टी) ने दिया बहुजन समाज पार्टी से इस्तीफा।

Frrukhabad मैंने बसपा में पिछले 11 साल से एक सच्चे कार्यकर्ता के रुप में कार्य किया है।मान्यवर कांशीराम के विचारों पर अमल किया है।परंतु पिछले कुछ समय से मैंने महसूस किया है कि अब बसपा कांशीराम जी के सिद्धांतों से बहुत दूर जा चुकी है।मैंने अपने स्तर पर कांशीराम जी के विचारों को लेकर बहुत बार पार्टी फोरम में अपनी बात रखी और ये याद दिलाने की कोशिश की कि कांशीराम जी ने बसपा में सभी दलित-पिछड़ों की हिस्सेदारी की बात की थी। लेकिन वह अब नहीं दिख रही है। मायावती जी बाबा साहब और कांशीराम जी के बताए मार्ग से भटक गई हैं।हम वोट नहीं करते हैं।बसपा उच्च पदाधिकारी कहते हैं कि धानुक, धोबी, बाल्मीकि, कोरी, पासी व अन्य दलित समाज बसपा को वोट नहीं देते हैं और बहन जी ने भी विधानसभा चुनाव हारने के बाद कहे दिया था कि हमे हमारे लोगों ने वोट दिया, अन्य दलित समाज ने वोट नहीं दिया जब मेरा और मेरे समाज का वोट मान्य ही नहीं किया जाता है तो ऐसी पार्टी में रहना और वोट देना बेकार है।इन्हीं सब कारणों से दुःखी होकर मैं पार्टी से इस्तीफा दे रहा हूं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button