फर्रुखाबाद

देश में चार लाख के क़रीब आज पहुंचे कोरोना मरीजों की संख्या , पैंतीस सौ से अधिक लोगों की गयी जान

देश में कोरोना की रफ्तार थमने का नाम नहीं ले रहा न कोई आस दिख रही है । अबतक लगातार नौवें दिन देश में कोरोना के तीन लाख से अधिक मामले सामने आ रहे हैं। बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के 3,86,693 मामले सामने आए हैं और 3502 की मौत इन चौबीस घंटो में हुई है। 

ये नौवां दिन है जब कोरोना के मामले तीन लाख से अधिक लगातार पहुंचे रहे हैं और आंकड़ा चार लाख के करीब पहुंच रहा है। इसी के साथ देश में संक्रमण की दर भी 21.2 फीसदी पहुंच चुकी है। इसका मतलब है कि हर 100 लोग जो टेस्ट करवा रहे हैं उनमें से 21 लोग पॉजिटिव पाए जा रहे हैं।

लगभग 6 अप्रैल से रोजाना 1 लाख से अधिक मामले सामने आने लगे थे और प्रतिदिन इजाफा होता गया 24 दिन बाद आंकड़ा 4 लाख के करीब पहुंचने लगा है। इसी के साथ चिंताजनक बात यह है कि पिछले कुछ दिनों से मौत का आंकड़ा तीन हजार के ऊपर लगातार बना हुआ है। 13 अप्रैल के बाद से मौत के आंकड़े बढ़ने शुरू हुए हैं। 

संपूर्ण महाराष्ट्र में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस से संक्रमण के 66,159 नए मामले सामने आए, और 771 मरीजों की मौत भी इसी दिन हो गई। महाराष्ट्र में संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़कर 45,39,553 हो चुकी है , और मृतकों की कुल संख्या बढ़कर 67,985 हो चुकी है । स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि इस दौरान 68,537 मरीजों को स्वस्थ होने पर अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है ।

महाराष्ट्र में अभी 6,70,३०१ पीड़ित मरीजों का इलाज चल रहा है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार महाराष्ट्र में कोविड मरीजों के स्वस्थ होने की दर 83.69 प्रतिशत है जबकि मृत्यु दर 1.5 प्रतिशत बानी हुई है। इस बीच अकेले मुंबई में 4,174 नए मामले सामने आए और 82 मरीजों की मौत हो गयी। इसके साथ ही यहां संक्रमित लोगों की कुल संख्या 6,44,583 हो गई वहीं मृतकों की संख्या बढ़कर 13,036 हो गई।
जबकि अनन्य ऐसे भी मामले हैं जो और भी गंभीर हो सकते हैं


देश में सबसे प्रभावित शहरों में पांच महाराष्ट्र से हैं।


देश में शीर्ष 10 सबसे प्रभावित शहरों में से पांच महाराष्ट्र से हैं। ये शहर हैं-  पुणे, मुंबई, नागपुर, ठाणे, नासिक और हैदराबाद। अन्य शहर है- लखनऊ, कामरूप मेट्रो और अहमदाबाद हैं ।  

देश में ये 15 राज्य सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं


कोरोना को अगर राज्यवार देखें तो शुक्रवार को 15 राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों में सबसे अधिक मामले सामने आए हैं । इन राज्यों में शामिल हैं- केरल, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, प. बंगाल, ओडिशा, राजस्थान, छत्तीसगढ़, हरियाणा, गुजरात, बिहार, मध्यप्रदेश, पंजाब और चंडीगढ़ आदि हैं । 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *