उत्तर प्रदेशमुरादाबादराजनीति

प्रियंका गांधी ने केंद्र व प्रदेश सरकारों पर बोला जोरदार हमला : भाजपा को बताया किसानों, महिलाओं और नौजवानों का विरोधी

Priyanka Gandhi made a strong attack on the central and state governments: told the BJP the opponent of farmers, women and youth

मुरादाबाद में रैली को संबोधित करतीं प्रियंका गांधी

02 दिसंबर 21, मुरादाबाद : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने प्रतिेज्ञा रैली में केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकारों पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने महंगाई, बेरोजगारी का मुद्दा उठाया तो किसानों के अपमान और महिलाओं के अत्याचार की बात करके दोनों सरकारों को घेरा। उन्होंने जनता को लुभाने के लिए फिर अपनी प्रतिज्ञाएं दोहराई तथा महिलाओं, युवाओं व किसानों के मुद्दों को खास तौर पर उठाकर वोट मांगे।

प्रदेश में दस लाख नौकरियां मौजूद

प्रियंका गोंधी ने कहा कि भाजपा की नीतियों ने प्रदेश को बर्बाद कर दिया। नोटबंदी और जीएसटी से कारोबार ध्वस्त हो गया। प्रदेश में माफियाराज चल रहा है। नेता धर्म और राजनीति करके सत्ता हासिल करना चाहते हैं, लेकिन कांग्रेस विकास की राजनीति करेगी। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों यूपीटीईटी की परीक्षा निरस्त करनी पढ़ी, इस परीक्षा में 22 लाख बच्चे शामिल थे। यही नहीं अबतक एक दर्जेन परीक्षाएं निरस्त की जा चुकी हैं। प्रदेश सरकार ने नौकरी नहीं दी, जबकि सूबे में 10 लाख नौकरियां मौजूद । उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने कहा था कि यूपी में नौकरियों के लायक युवा नहीं हैं।

प्रियंका गांधी को सुनने आईं महिलाएं रैली में

महिलाओं को देंगे 40 फीसद आरक्षण

कांग्रेस नेता ने कहा कि यूपी में कांग्रेस की सत्ता आई तो महिलाओं को सरकारी नौकरियों में 40 फीसद आरक्षेण दिया जाएगा। आरक्षेण की मौजूदा नीतियों के तयत ही महिलाओं के लिए आरक्षण का इंतजाम किया जाएगा। उन्होंने एलान किया कि पार्टी महिलाओं को सेक्षम बनाना चाहती है इसलिए 40 फीसदी टिकट भी महिलाओं को दिए जाएंगे। उन्होंने सरकार बनने पर स्कूटी, मोबाइल बांटने के साथ अन्य कई योजनाओं की घोषणा की। उन्होंने महिलाओं से पूछा सहना चाहती हो या लड़ना, महिलाओं ने जवाब दिया कि लड़ना।

किसानों का भाजपा कर रही अपमान

प्रियंका गांधी ने कहा कि भाजपा की केंद्र व प्रदेश सरकार को किसानों की कतई चिंता नहीं है। उन्होंने कहा कि किसान खाद की लाइन में मर रहे हैं और खाद नहीं मिलने पर आत्महत्या भी कर रहे हैं। किसानों का चार हजार गन्ना मूल्य बकाया है। पीएम मोदी ने आठ हजार करोड़ का जहाज तो अपने लिए खरीद लिया, लेकिन किसानों को भुगतान देने के लिए पैसे नहीं है। उन्होंने कहा कि संसद में भाजपा ने आंदोलन के दौरान शहीद किसानों के लिए एक शब्द नहीं बोला। इसी तरह लखीमपुर कांड पर योगी ने किसानों के प्रति सांत्वना नहीं जताई। यह देश किसानों ने बनाया है और किसान को न्याय चाहिये। केंद्र सरकार ने संसद में चर्चा नहीं होने दी और दो मिनट को मौन भी नहीं रखा।

मुरादाबाद रैली में उमड़ा जनसैलाब

छोटे व्यापारियों की करेंगे मदद

पिे्रयंका गांधी ने कहा कि कोरोना काल में सरकार ने लापरवाही दिखाई। जनता को सरकार से हिसाब मांगना चाहिए। कांग्रेस सत्ता में आने पर छोटे व्यापारियों, ठेले वालों और फड़ वालों की आर्थिक मदद करेगी। पीड़ित परिवारों को भी 25 हजार की आर्थिक सहायता करने का वादा उन्होंने किया। उन्होंने कहा कि सरकार चलाने वालों ने पांच साल कुछ नहीं किया, अब फूट डालकर फिर सत्ता हासिल करना चाहते हैं। अब जवाब जनता को देना है। धर्म और जाति की राजनीति करने वाले दलों को नकारकर सम­ादारी से मतदान करना होगा।

किसान आंदोलन से सीखें मतदाता

प्रियंका गांधी ने कहा कि मतदाता को किसान आंदोलन से सीख लेनी चाहिए। किसानों के सामने सरकार को ­ाुकना पड़ा। एकजुटता से किसान अपनी मांगों पर अड़े रहे। इसी तरह जनता को भी नेताओं को जवाबदेह बनाना होगा, उनकी जिम्मेदारी तय करनी होगी। प्रजातंत्र में सबसे बड़ी शक्ति जनता है। जनता को राजनीति को विकास पर लाना होगा, यही आपकी अपनी राजनीति है। रैली को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रदेशाध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, शूटर पूनम पंडित, फिल्म अदाकारा अर्चना गौतम, इमरान प्रतापगढ़ी, अल्पसंख्यक विभाग उपाध्यक्ष मौहम्मद अहमद, नसीमुद्दीन सिद्दीकी, पाखुंडी पाठक, पूर्व विधायक गजराज सिंह आदि ने संबोधित किया।जिलाध्यक्ष असलम खुर्शीद, प्रदेश सचिव अजय सारस्वत सोनी, अनुभव मल्होत्रा, आजम अंसारी, सिप्ते हसन हकीम जी, शकील सरवर हाशमी, सगीर सईद खां, शाकिर रायनी, अरविंद रस्तोगी आदि शामिल रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button