अपराधउत्तर प्रदेशरामपुर

बिजली महकमे का घोटाला : 12 बीघे के खेत में दिखाए दो नलकूप कनेक्शन, भेजा लाखों का बिल, आरसी जारी

Electricity department scam: Two tube well connections shown in 12 bighas of farm, bill of lakhs sent, RC issued


06 दिसंबर 21, रामपुर। विद्युत विभाग की लापरवाही के चर्चे यूं तो हमेशा रहते हैं लेकिन इस बार विद्युत विभाग ने हद ही कर डाली। मुरादाबाद निवासी किसान की रामपुर में स्थित मात्र 12 बीघा जमीन पर किसान के विना मर्जी और विना आवेदन किए दो नलकूप कनेक्शन दिखाकर लाखों का बिल भेज दिया। बिल देखकर किसान के होश उड़ गए, वह दो साल से विभाग के चक्कर काटकर परेशान हो रहा है। हैरानी की बात यह है कि विभाग ने किसान पर एक और आघात करते हुए आरसी भी जारी कर दी है। किसान का कहना है कि इस मामले की बारीकी जांच हो जाए तो विभाग को बड़ा घोटाला खुल सकता है।

यह है पूरा मामला

मुरादाबाद के थाना भगतपुर के ग्राम पंचायत बेरखेड़ा चक निवासी किसान खिलाफत अली पुत्र मौला बक्श की करीब 12 बीघा जमीन रामपुर की तहसील शाहबाद की ग्राम पंचायत बड़ा गांव में है। जिसको दूरी होने की वजह से किसान अपनी जमीन उसी गांव के व्यक्तियों को ठेके पर दे देता है। इसी बीच किसान के पास सन 2019 को तहसील शाहबाद से दो नोटिस भेजे गए जिसमें लाखों रुपए के दो अलग अलग विल थे और अलग अलग नलकूपों की आरसी थी। बिल देखकर परेशान हुआ किसान दोनों आरसी लेकर विद्युत विभाग शाहबाद और रामपुर पहुंचा, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। लिखित शिकायत करने पर भी कोई अधिकारी किसान की बात सुनने को राजी नहीं हुआ ऊपर से शाहबाद एसडीओ ने किसान को लताड़ लगाते हुए कह दिया कि बार बार आकर क्यों परेशान करते हो। बिल तो भरना ही पड़ेगा।

आधी गलती मानी, आधी पर अभी भी अड़े

किसान ने जिलाधिकारी रामपुर से शिकायत की तब जिलाधिकारी ने इसमें जांच कराई। जांच से विद्युत विभाग में हड़कंप मच गया और विभाग ने आनन-फानन में विभागीय गलती मानते हुए एक कनेक्शन को वापस लेने के आदेश कर दिए, लेकिन दूसरे कनेक्शन की जांच की तब उस जांच में विद्युत विभाग की गर्दन फंसने का नंवर आ गया क्योंकि किसान की फर्जी आईडी बनाकर गांव के ही किसी अन्य किसान के खेत पर वह नलकूप चलता मिला। विद्युत विभाग की मिलीभगत का पदार्फाश होने ही बाला था तब उक्त कर्मचारियों को बचाने के चक्कर में शाहबाद एसडीओ ने किसान के खिलाफ ही रिपोर्ट लगा दी कि किसान के खेत पर ही नलकूप चल रहा है जबकि किसान के खेत पर न तार है न पोल है न ही नलकूप है। हल्का लेखपाल ने अपनी खसरा खतौनी में भी दशार्या है कि खेत पर नलकूप नहीं है। किसान अब मुख्यमंत्री दरवार में जाकर शिकायत करेगा तथा विद्युत विभाग के एसडीओ और अभियंता के खिलाफ कार्रवाई भी कराने की योजना बनाई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button