Uncategorized

लखीमपुर कांड: शादी, दुष्कर्म, हत्या और मुठभेड़…सुहैल और जुनैद की बहनों से थी दोस्ती; अब तक के सारे अपडेट्स

छः में पांच आरोपी मुस्लिम

Lakhimpur Kheri:उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले के निघासन थाना क्षेत्र के एक गांव में दो बहनों की मौत के मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। गुरुवार को पुलिस ने प्रेस कांफ्रेंस की। पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन ने बताया कि दुष्कर्म के बाद दोनों बहनों की हत्या की गई थी। वारदात में कुल छह लोग शामिल हैं। नामजद छोटू समेत छह आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं। आरोपियों में छोटू, सुहेल, जुनैद, हफीजुल्लाह, करीमुद्दीन, आरिफ शामिल हैं। एक अभियुक्त जुनैद को पुलिस ने झंडी चौकी क्षेत्र में मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है। आरोपी जुनैद के पैर में गोली लगी है। पुलिस ने पॉक्सो और संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। कल ऐसी बात सामने आई थी कि पुलिस ने जबरन पोस्टमार्टम कराया, जोकि गलत है। आरोपियों के कपड़े का और उनका डीएनए टेस्ट भी कराया जा रहा है।

पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन ने बताया कि दुष्कर्म के बाद हत्या की वारदात में कुल छह लोग शामिल हैं। नामजद छोटू समेत छह अभियुक्त गिरफ्तार किए गए हैं।

आरोपी छोटू, सुहैल, जुनैद, हफीजुल्लाह, करीमुद्दीन आरिफ हैं। एक अभियुक्त जुनैद की मुठभेड़ के बाद गिरफ्तारी हुई है। जुनैद के पैर में गोली लगी है।

पांच अभियुक्त एक ही गांव के रहने वाले हैं। सभी आरोपी आपस में दोस्त हैं। मुख्य साजिश कर्ता पड़ोस में रहने वाले छोटू ने ही किशोरियों से सुहैल और जुनैद की दोस्ती कराई थी।

हालांकि पीड़ित परिवार के पड़ोस में रहने वाला छोटू घटना के दौरान मौके पर मौजूद नहीं था। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि आरोपी दोनों बहनों को बहला फुसला के खेत में ले गए थे।

एसपी ने बताया कि सुहैल और जुनैद ने पूछताछ में दुष्कर्म की बात स्वीकारी है। बुधवार को आरोपी बहला फुसलाकर दोनों लड़कियों को खेत में ले गए थे और वहां दुष्कर्म किया।

शादी की जिद पर अड़ गईं थी किशोरियां, तो गला दबाकर मार डालने की बनाई थी योजना

एसपी ने बताया कि पूछताछ में आरोपियों ने स्वीकारा कि दोनों लड़कियां उनसे शादी की जिद पर अड़ गई थीं, जिसके बाद तीन आरोपियों सुहैल, जुनैद और हफीजुल्लाह ने दुपट्टे से दोनों बहनों की गला दबाकर हत्या कर दी।

इसके बाद साक्ष्य मिटाने के लिए दो आरोपियों कलीमुद्दीन और आरिफ को भी मौके पर बुलाया। जिन्होंने लड़कियों को फंदे पर लटकाने में मदद की। ताकि यह आत्महत्या का मामला लगे।

पोस्टमोर्टम पूरा हो गया है लड़की के शव अस्पताल से घर के लिए रवाना हो गए हैं। परिजनों ने कहा कि जब तक रिपोर्ट नहीं आती, अंतिम संस्कार नहीं कराएंगे। मेडिकल सूत्रों के मुताबिक, गला घोंटकर हत्या की पुष्टि हो गई है। दुष्कर्म की जांच के लिए स्लाइड बनाई जा रही है।

नहीं लगाई गई अपहरण की धारा

घर में घुसकर मारपीट, दुष्कर्म, हत्या और पॉक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है। अपहरण की धारा नहीं लगाई गई है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button