Uncategorized

वार एसोसिएशन अलीगंज चुनाव में धांधली का आरोप

संपन्न चुनाव प्रमोद मिश्रा अध्यक्ष अनिल अवस्थी सचिव निर्वाचित


*बार एसोसिएशन अलीगंज के चुनाव में धांधली का आरोप*

*सम्पन्न चुनाव में प्रमोद मिश्रा अध्यक्ष अनिल अवस्थी सचिव निर्वाचित।*

एटा /अलीगंज बार एसोसिएशन की चुनाव प्रक्रिया चल रही है, अध्यक्ष पद पर एक तरफ महेंद्र शाक्य दूसरी तरफ प्रमोद मिश्रा के मध्य चुनावी जंग हुई, जिसमे 71 अधिवक्ताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया,प्रमोद मिश्रा को 49 मत व महेंद्र शाक्य को 22 मत मिले इन मतों के आधार पर प्रमोद मिश्रा 27 मतों से जीत दर्जकर बार ऐसा0 के अध्यक्ष निर्वाचित हुए। चुनाव प्रक्रिया के लिए एल्डर्स कमेटी के बलवीर सिंह राठौर राघवेंद्र पांडे अमरनाथ गुप्ता की देखरेख में अधिवक्ता गण बहुत ही शक्ति पूर्वक अपने प्रत्याशी के पक्ष में मतदान कर रहे थे,मतदान में गड़बड़ी को लेकर पूर्व में बार एसोसिएशन अलीगंज के अध्यक्ष और सचिव द्वारा तहसील अलीगंज प्रकरण के खिलाफ की गई हड़ताल में सहयोग न करने पर 10 वरिष्ठ अधिवक्ताओं को बार एसोसिएशन से निष्कासित कर इनकी सूचना अध्यक्ष बार काउंसिल उत्तर प्रदेश को भेज दी गई थी, निष्कासित अधिवक्ताओं ने अपनी दलील बार काउंसलिंग उत्तर प्रदेश को भेजी थी जिसमें बार काउंसलिंग अध्यक्ष मधुसूदन त्रिपाठी द्वारा निष्कासित अलीगंज बार एसोसिएशन के सदस्यों को बार एसोसिएशन अलीगंज में होने वाले चुनाव में सम्मिलित होने का स्पष्ट निर्देश दिया था, लेकिन अलीगंज बार एसोसिएशन ने उक्त आदेश को नजरअंदाज करते हुए बार एसो0 अलीगंज के चुनाव को तय तिथि पर ही कराने का अपना निर्णय बरकरार रखा इस प्रकरण में निष्कासित अधिवक्ता बार एसो0 के कार्यालय के समक्ष धरने पर बैठ गए,और नारेबाजी करते हुए बार एसोसिएशन के चुनाव में धांधली का आरोप लगाते हुए कह रहे थे कि बार एसोसिएशन अलीगंज का चुनाव असंवैधानिक है,और एल्डर्स कमेटी को चाहिए कि इस चुनाव को निरस्त कर बार काउंसिल उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष द्वारा दिए गए निर्देश केअनुपालन में हम सभी को बार एसो0अलीगंज में सम्मिलित करते हुए ही चुनाव कराए जाएं, आज का चुनाव पूरी तरह असंवैधानिक है धरने पर प्रमुख रूप से बार एसोसिएशन अध्यक्ष अम्वरीश सिंह राठौर, प्रताप सिंह राठौर, किशनवीर सिंह तोमर, अरविंद कुमार दुबे, नरेंद्र सिंह सोलंकी, चंद्रपाल सिंह यादव, अरविंद वर्मा, महेंद्र प्रताप सिंह राठौर, शिवांग दुबे आदि लोग धरने पर बैठे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button