फ़र्रूख़ाबाद

विकास खंड बढ़पुर का आरक्षण इस प्रकार है। नए आरक्षण ने फिर से जगाई पुराने उम्मीदवारों की उम्मीद

विकास खंड बढ़पुर के कई महत्वपूर्ण गांवों पर आरक्षण का हंटर चला जिसनें फिर एक गाँव गाँव की राजनीति को बदलकर रख दिया। उम्मीद खो चुके दावेदारों को नये आरक्षण से संजीवनी मिली है । और वह भी अब दौड़ में है । कही खुशी कहीं गम का माहौल देखने को मिल रहा है।
अनुसूचित जाति के कोटे में शामिल हुए यह गाँव इस प्रकार है।
निबलपुर, देवरामपुर, लखमीपुर, नूरपुर गढिया व याकूतगंज को अनुसूचित जाति महिला के कोटे में दिया गया है| वहीं अनुसूचित जाति में भगुआ नगला, पपियापुर, मसेनी, घारमपुर,अमेठी जदीद, कुटरा, ढ़िलावल, गंगोली,माधौपुर रखा गया है|
अन्य पिछड़ा वर्ग में गये गाँव को देखे
जैतपुर, हैवतपुर गढिया, कलौली महिबुल्लापुर, अमिलपुर को महिला पिछड़ा वर्ग में रखा गया है| कुबेरपुर घाट अर्रापहाड़पुर, भावपुर खुर्द, निनौआ, अमेठी कोहना, धन्सुआ, बाहिदपुर, सोता बहादुरपुर, बरौन, रेहा करनपुर को अन्य पिछड़ा वर्ग के खाते में रखा है|
महिलाओं के लिए किये गये आरक्षित गाँव
बाबरपुर, खानपुर, विजाधरपुर, चौसपुर, हाथीपुर, सरैया, रसीदपुर, कटरी धर्मपुर, चाँदपुर महिलाओं के खाते में गये|
अनारक्षित हुए गाँव को भी देखे
बागलकूला, आवाजपुर, अजमतपुर, बराकसू उर्फ रानीगढ़, बसेली, बिलाबलपुर, बुढनामऊ, गुतासी, जसमई, जनैया सिठैया, कटरी गंगपुर, आर्यबंदी कुईयां बूट, कीरतपुर, महरूपुर सहजू, महलई, नेकपुर खुर्द, न्यामतपुर, पिथूपुर मेंहदिया, रम्पुरा, रामपुर-ढपरपुर को अनारक्षित रखा गया है

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *