फ़र्रूख़ाबाद

शमशाबाद के आरक्षण में देखें अपना गांव,कईओं की तयारी ध्वस्त आरक्षण ने खेल बिगाड़ा

Shamshabad: शमसाबाद की छोटी सरकार बनाने लिए अपने-अपने तरह से राजनैतिक रोटी सेंकने की तैयारी में लगे दावेदारों की रोटी आरक्षण आने से रह गयी| जिससे विकास खंड के गाँवो में धमाचौकड़ी तेज हो गयी गयी है| पढ़े प्रधान पद के लिए आरक्षण

अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित गाँव

गदनपुर चैन, उगरपुर, भिडौर, असगरपुर, किसरोली, अमलैया आशानंद को महिला अनुसुचित जाति के लिए आरक्षित किया गया है| झौआ, अबूरारा, धूमई रसूलपुर, ख्वाजा अहमद कटिया, बघौना, कुआँ खेड़ा खास, कुआं खेड़ा बजीर आलम खां, बघऊ, सरीफपुर छिछनी, मुरैठी, अददुपुर देहामफी को अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित किया गया है|

पिछड़ा वर्ग में शामिल गाँव

ग्राम सभा खगऊ, सुल्तानपुर, चिल्सरी, बैरमपुर, कासिमपुर तराई, दलेलगंज कलुआपुर सानी, लोहापानी, कुईयां धीर को पिछड़ा वर्ग महिला के लिए आरक्षित किया है| वहीं मंझना, रोशनाबाद, ललौर राजपुताना, रशीदपुर तराई, अलियापुर, समसपुर भिखारी, सरपारपुर, नगला बसोला, चिलसरा, रजलामई, बांसखेड़ा, पपड़ी खुर्द, ठिठुलियापट्टी, तुर्कपुर, बेहटा बल्लू, हुसैनपुर तराई, भगवानपुर को पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित किया गया है|

महिलाओं के लिए आरक्षित गाँव

अहमदगंज, सुल्तानगंज खरेटा, हरसिंगपुर गोवा, बरई, बक्सुरी, अरियारा, कुईयां खेड़ा, समैसिपुर चितार, गंगलाऊ परमनगर, महमदपुर मुसेपुर, नैगवा, बुढनापुर, नगला दमू, नटवारा, सैदपुर रहमदादपुर, खुड़ना वैध, कोमहिलाओं के लिए आरक्षित किया गया है|

 

 

 

 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *