फर्रुखाबाद

शराब के लिए नहीं दिया पैसा तो चाचा की गला दबाकर कर दी हत्या

मोहम्मदाबाद फर्रुखाबाद उगरपुर निवासी दिवारी लाल राजमिस्त्री का कार्य करते थे। दिवारी लाल के एकमात्र पुत्र गोलू तथा पुत्री शोभा है दोनों का विवाह हो चुका है। गोलू दिल्ली में रहकर प्राइवेट नौकरी करता है उसकी पत्नी साथ रहती है। गोलू को भी अपने साथ ही ले गया। दिवारी लाल गांव में अकेले रहते थे बीती रात्रि लगभग 9 बजे दिवारी लाल का झगड़ा भतीजे अरविंद से हुआ था। सुबह भाई लालाराम दिवारी लाल को चाय देने गए तब उन्होंने दिवारी लाल का शव घर में पड़ा देखा। दिवारी लाल के शरीर पर कोई निशान नहीं था। लालराम की सूचना पर प्रभारी निरीक्षक दिलीप कुमार बिंद, अपर पुलिस अधीक्षक अजय कुमार तथा क्षेत्राधिकारी सोहराब आलम मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों ने अरविंद को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया दरोगा अनिल कुमार ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। ग्रामीणों ने बताया की अरविंद शराबी किस्म का युवक है उसके पिता की मृत्यु हो चुकी है वह भी घर में अकेला रहता है अक्सर गांव वालो को गाली गलौज करता था।
प्रभारी निरीक्षक दिलीप कुमार बिंद ने बताया कि दोनों का रात में शराब पीकर झगड़ा हुआ था। दिवारी लाल के शरीर पर चोट के निशान नहीं है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही हकीकत सामने आएगी। क्षेत्राधिकारी सोहराब आलम ने बताया कि नशेड़ी भतीजा अरविंद दिवारी लाल से शराब पीने के लिए रुपए मांगता था। इसी बात को लेकर रात में विवाद हुआ था अरविंद ने ही रात में दिवारी लाल की गला दबाकर हत्या कर दी है आरोपी से पूछताछ की जा रही है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *