उत्तर प्रदेशफ़र्रूख़ाबाद

शिक्षामित्रों ने पांच सूत्री मांगों को लेकर दिया मुख्यमंत्री के नाम जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को प्रार्थना पत्र

Farrukhabad:शिक्षामित्रों का कहना है कि इस भयंकर महंगाई में ₹10000 से हमारे परिवार का भरण पोषण कैसे हो.
शिक्षामित्रों की मांग है कि मानदेय 10000 से बढ़ाकर ₹40000 किया जाए।
जनपद फर्रुखाबाद की शिक्षा मित्रों का रुका हुआ वेतन जनवरी फरवरी-मार्च 2018 का भुगतान किया जाए.
महिला शिक्षा मित्रों को उनके ससुराल के स्थाई विद्यालय में नियुक्ति किया जाए व पुरुष शिक्षामित्रों को उनके मूल विद्यालय में वापसी किया जाए।

शिक्षामित्रों को भी शिक्षकों की भांति मेडिकल का अवकाश प्रदान किया जाए
शिक्षामित्रों की आखिरी मांग है कि शिक्षकों की बहाली बीमा योजनाओं में भी लाभान्वित किया जाए।

समायोजन बहाल करने की मांग उठा रहे शिक्षामित्रों ने मानदेय बढ़ाने का भी शासन से मांग की है। शिक्षामित्रों का कहना है कि समायोजन रद्द होने के बाद से शिक्षामित्र लड़ाई लड़ रहे हैं। सरकार को चाहिए कि स्थायी समाधान किया जाए। जिससे शिक्षामित्रों के परिवार की गुजर हो सके। इस मानदेय से कोई राहत नहीं मिलने वाली है। उनका कहना है कि बहाली की लड़ाई लड़ते लड़ते 6000 शिक्षामित्रों की जान चली गई। इसके बाद भी सरकार ने समाधान नहीं किया। जबकि शासन स्तर से समाधान किया जा सकता है।
5 सूत्री ज्ञापन शिक्षा मित्र संघ के जिला अध्यक्ष फर्रुखाबाद ऋषि पाल यादव की अगुवाई में दिया गया साथ में उपस्थित रहे अरुण कुमार सिंह, सुषमा भदौरिया, अखिलेश कुमारी, पवन कुमार यादव,प्रदीप गौतम, समर सुल्तान, नारायण देव यादव, भूपेन्द सिंह,रजत यादव व कन्हैयालाल प्रवक्ता आदि मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button