20231112_072646
20231112_064350
20231111_220258
20231111_214048
20231112_092140
20231111_205345
20231111_152809
20231112_095118
previous arrow
next arrow
Loading Now

संभागीय परिवहन और पुलिस विभाग मिल कर करा रहा वाहनों की डग्गामारी

संभागीय परिवहन और पुलिस विभाग मिल कर करा रहा वाहनों की डग्गामारी

डग्गामार वाहनों के चलते उत्तर प्रदेश परिवहन विभाग को लग रहा चुना, और डग्गामार वाहनों के संचालन से सड़क दुर्घटनाओं की आशंका बनी रहती है ।इसे देखते हुए मुख्यमंत्री ने डग्गामार वाहनों पर सख्त कार्रवाई करने का आदेश दिया था। लेकिन जनपद फर्रुखाबाद की सड़कों पर जमकर मुख्यमंत्री के आदेश का पालन होता नहीं दिख रहा है। सड़कों पर प्रतिदिन पुलिस व तहसील प्रशासन की नाक के नीचे सैकड़ों की संख्या में डग्गामार वाहनों का संचालन किया जा रहा है। वहीं डग्गामार वाहनों के संचालन में यात्रियों की सुरक्षा का भी कोई ध्यान नहीं रखा जा रहा है, जिसके चलते किसी भी समय बड़ी दुर्घटना हो सकती हैजिले में डग्गामारी का आलम यह है कि जनपद फर्रुखाबाद से कई अन्य प्रदेशों के लिए बसों का संचालन किया जा रहा है जनपद के कई अन्य राज्यों के लिए संचालित हो रही इन बसों द्वारा यात्रियों को पंजाब दिल्ली व मुंबई आदि की यात्रा करवाई जाती है वहीं इनके एवरेज में यात्रियों से मोटी रकम भी वसूली जा रही है इन विभागों पर है पाबंदी की जिम्मेदारी डग्गामार वाहनों पर अंकुश लगाने का जुम्मा संभागीय परिवहन विभाग, परिवहन निगम, स्थानी पुलिस व तहसील प्रशासनपर है इसके बावजूद भी सभी जिम्मेदार इन पर कार्रवाई करने के प्रति उदासीन दिख रहे हैं चारों विभागों को डग्गामार वाहनों को बंद कराना चाहिए लेकिन शायद ही कभी कोई कार्रवाई की गई हो। कार्रवाई न होने से डग्गामार वाहन मालिकों के हौसले बुलंद हैं।इन विभागों पर है पाबंदी की जिम्मेदारी
डग्गामार वाहनों पर अंकुश लगाने का जुम्मा संभागीय परिवहन विभाग, परिवहन निगम, स्थानी पुलिस व तहसील प्रशासनपर है इसके बावजूद भी सभी जिम्मेदार इन पर कार्रवाई करने के प्रति उदासीन दिख रहे हैं चारों विभागों को डग्गामार वाहनों को बंद कराना चाहिए लेकिन शायद ही कभी कोई कार्रवाई की गई हो। कार्रवाई न होने से डग्गामार वाहन मालिकों के हौसले बुलंद हैं।

Post Comment