फर्रुखाबाद

प्राइवेट हाथों में जाएंगी 109 ट्रेनें, सूबेदार राकेश कुमार का तीखा प्रहार

Farrukhabad:डबल स्टैंडर्ड लोगों ने देश बेंच डाला । इनका देश प्रेम एवं देशभक्ति झूठा नाटक जनता को बेबकूफ बना कर देश व जनता के खजाने को लूटने की साजिश और षणयंन्त्र का हिस्सा है। भारतीय रेल जो कल तक आपकी संपत्ति थी व जनता की लाइफ लाइन कहलाती थी, उसे पहले तो इन्होंने पिछले डेढ़ सालों से बंद करके जनता से सस्ते और आरामदायक सफर की सुविधाएं छीन कर जनता को अन्य संसाधनों के जरिए महंगी व कष्टदायक यात्राएं करने पर मजबूर कर भारतीय रेल व उसकी

देश किस दिशा में आगे बढ़ रहा है

संपत्तियों को कौड़ियों में बेंच कर अपने चहेते अडानी की रेल बना दिया है । देश की जनता की बेहतरीन सेवा कर मुनाफा कमाने वाली रेल को निजी हाथों में सौंप देना देश एवं जनता के साथ गद्दारी करने के समान है । देश की जनता और उसकी भावी पीढ़ियां संघी मोदी सरकार की तमाम गलत नीतियों और फैसलों के परिणाम शदियों तक भुगतेगी । यह ईस्ट इंडिया कंपनी जैसी शुरूआत है जो देश को पुनः गुलामी के दौर में ले जाएगी । बादशाह जहांगीर ने तब अंग्रेजों की ईस्ट इंडिया कंपनी को व्यापार करने की इजाजत देते वक्त यह कब सोचा था कि जल्द ही ईस्ट

इंडिया कंपनी एक विशाल साम्राज्य खड़ा कर उनकी भावी पीढ़ियों से राज सिंहासन छीन कर उन्हें अपना गुलाम बना लेगी और देश के धन संसाधनों को लूट कर इंग्लैंड ले जाएंगी । अब एक बार पुनः अंग्रेजों के दलालों के गुलामों ने देश को पुनः गुलाम बनाने हेतु राष्ट्रीयकरण के बजाए निजीकरण की नीति अपनाई है और देश के संसाधनों को बेंच रहे हैं। जो आज यह सब खरीद रहे हैं वो कल क्या करेंगे किसी को भी मालूम नहीं है।

सूबेदार राकेश कुमार सागर, सेवानिवृत्त
पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष
उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी
अनुसूचित जाति विभाग
192, कायमगंज (सुरक्षित) विधानसभा क्षेत्र
जनपद फर्रुखाबाद (उत्तर प्रदेश)

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *