Breaking News
अपने ही बेटे के बच्चे की मां बन गयी ये महिला ,सुनकर लोग हैरानएचडीएम पब्लिक स्कूल नवाबगंज में छात्र-छात्राओं का स्वागत करते शिक्षक करोना कॉल के 1 वर्ष बाद सोमवार से खुला है स्कूलKasganj: बसपा जिला अध्यक्ष की अध्यक्षता में संत सिरोमणी रविदास जी की जयंती मनाई गईफर्रुखाबाद में सपाइयों ने मनाई रविदास जी की जयंतीपुलिस अधीक्षक ने किया फेरबदल28 फरवरी को पाल महासभा की मीटिंग, मीटिंग स्थान नंद गांव मरहला धीरपुर चौराहा के पास जिला फर्रुखाबादपांचाल घाट फर्रुखाबाद पर मोटर बोर्ड सहित पीएसी तैनातअब पत्रकार को धमकाया तो खैर नहीं 24 घंटे में होगी जेल ₹50000 देना होगा जुर्मानादुल्लामई मोड़ पर अज्ञात वाहन ने सिपाही को मारी टक्करबहुजन समाज पार्टी ने संत गाडगे महाराज पर भोजपुर विधान सभा क्षेत्र में विचार गोष्ठी का आयोजन किया

ग्राम वलोखर थाना नबावगंज में पशु पालक की 46 भेड़ों को लकड़बग्घा ने मार डाला, छः लाख का लगभग किया नुकसान

ग्राम वलोखर थाना नवाबगंज जनपद फर्रुखाबाद में एक घटना घटी है जिस घटना में ग्राम वलोखर निवासी गुरबख्श के यहां किसी आवारा जानवर ने उनकी भेड़ों पर हमला कर दिया भेड़ें रोज की तरह अपने स्थान पर थी जहां तवेले में बांधी जाती थी रोजाना की तरह वहां पर भेड़ों को खाना पीना देने के बाद  पशु पालक गुरु बक्स है। गुरबख्श ने बताया कि रात में किसी टाइम पर किसी ऐसे जानवर ने हमला कर दिया जिससे करीब 46 घरों को नुकसान पहुंचाया गुरबख्श के अनुसार उसके यहां शाम को 3:00 या 4:00 बजे के टाइम पर किसी आवारा जानवर ने उसके भेड़ों के तबेले में हमला कर दिया जब परिजन सो रहे थे और जब वह सुबह 6:00 बजे जगाया गया उनके घर की एक कोई बुजुर्ग महिला सबसे पहले जाग गई  जब उन्होंने देखा है तो कई भेड़ों के यहां वहां मरी पड़ी थी तो उन्होंने अपने परिवार के लोगों को बताया तो सभी अचंभित रह गए परिवार के लोगों ने देखने के बाद जब गुरबख्श जी ने पवन कुमार लेखपाल जी से जब संपर्क किया तो वो वहां आये और उन्होंने नुकसान का आकलन किए ही बिना चले गए 24webnews के पत्रकार ने फोन पर बात की तो लेखपाल पवन कुमार ने बताया कि उन्हें नुकसान का कोई आंकलन नहीं है। पशु चिकित्सक ने बताया कि भेड़ों पर शियार (लकड़बग्घा) ने हमला किया है शायद पोस्ट मार्टम करने के बाद बताया कि भेड़ों को जमीन में दबा दीजिए पशु चिकित्सा के कहने पर पशु पालक ने भेड़ों को दबा दिया है पशु पालक को राहत की उम्मीद नहीं मिलतीदिख रही है जैसा कि पवन कुमार जी ने बताया है उनके हिसाब से किसी तरीके का कोई नुकसान का आकलन उनके पास नहीं है उन्होंने काउंटिंग की और इसी गांव में अन्य लोगों के यहां पर भी पिछले 4 दिनों से कई अन्य लोगों की भेड़ों पर हमला हो चुका है जिसमें कई भेड़ की मौत हो चुकी है । पशु पालक गुरबख्श के अनुसार लगभग छः लाख रूपए का नुक़सान हुआ है सरकार से उम्मीद भी लगाये हैं।

24WebNews
Author: 24WebNews

24webnews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Connect with us -

Recent Posts