उत्तर प्रदेश | कानपुर | फर्रुखाबाद

50 लाख में मौत का सौदा: बेटे की पत्नी पर गंदी नजर रखता था पिता, विरोध पर की गोली मार कर हत्या, पुलिस ने किया खुलासा

कमल द्विवेदी की मौत के मामले में एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। जिसमें वारदात के बाद कमल के परिवार वाले ससुराल वालों के साथ सौदा करते दिखे व सुनाई दे रहे हैं। तकरीबन 50 लाख का सौदा किया जा रहा था। ताकि मृतका की पत्नी की तरफ से कोई कार्रवाई न हो। हालांकि जैसे ही ये पता चला कि पुलिस ने कमल की पत्नी पर ही मुकदमा दर्ज कर दिया है तो पूरा खेल और डील बिगड़ गई। इसमें पुलिस का भी रवैया सवालों के घेरे में रहा। वीडियो में नजर आ रहा है कि कमल की मां गीता जेवरात और बीस लाख रुपये नकद लाकर रखती हैं। इस दौरान प्रीति के परिजन भी वहां मौजूद रहते हैं। फिर एक शख्स गीता के पैर पकड़ लेता है। वीडियो वायरल होने के बाद जब इस बारे में मोर्चरी पहुंची प्रीति से पूछा गया तो उन्होंने पूरी बात स्वीकार की।

वह व उनके रिश्तेदारों का कहना है कि बच्ची का भविष्य सुरक्षित करने के लिए ऐसा किया जा रहा था। तभी पता चला कि गीता की तहरीर पर पुलिस ने प्रीति पर भी मुकदमा दर्ज कर दिया है। उसके बाद मोर्चरी में प्रीति व उसके परिवार वाले हंगामा करने लगे। उन्होंने ससुराल वालों पर ही गंभीर आरोप लगाए हैं। 

ससुर गलत नीयत रखता था, इसी पर विवाद हुआ, तो गोली मार दी 


कमल की पत्नी ने ससुर मनोज पर गलत नीयत रखने का आरोप लगाया। कमल ने जब इसका विरोध किया तो वह भड़क गया था। पहले विवाद करता रहा और फिर राइफल ले आया। कहासुनी हो ही रही थी कि मनोज ने कमल को गोली मार दी। आउटर पुलिस के अफसरों का कहना है कि इस आरोप से संबंधित कमल की पत्नी ने तहरीर दी है। आरोपों की जांच की जा रही है। 

पुलिस के रवैये पर भी सवाल 


पूरी घटना में पुलिस के रवैये पर भी सवाल उठ रहे हैं। निष्पक्ष कार्रवाई के बजाय पुलिस हीलाहवाली कर रही थी। वह खुद मामले को टाल रही थी। एक पक्ष का आरोप है कि साजिश के तहत पुलिस ने प्रीति पर एफआईआर दर्ज करवा दी। जिससे बाद में प्रीति की तहरीर पर मुकदमा न दर्ज करना पड़े। यही हुआ भी है। प्रीति की तहरीर लेने के बाद केस दर्ज नहीं किया। 

दरवाजा तोड़कर दाखिल हुई पुलिस 


वारदात के बाद घर पर ताला डाल दिया गया था। यह भी बताया जा रहा है कि पुलिस को काफी देर बाद सूचना दी गई। जब पुलिस पहुंची तो वहां ताला पड़ा मिला। पुलिस ताला तोड़कर भीतर घुसी और दोनों लाइसेंसी असलहे कब्जे में लिए।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *