फर्रुखाबाद

पुलिस से तंग आकर पत्रकार ने अपने मकान पर मकान बिकाऊ का बैनर लगा दिया

सिविल कोर्ट् से यथास्थिति बनाए रखने के लिए स्टे को पुलिस ने किया खारिज करा दिया कब्जा

नवाबगंज फर्रुखाबाद
कस्बे में दुकानों को लेकर आपसी बंटवारे में सहमति ना होने पर सिविल कोर्ट में मुकदमा विचाराधीन है और सिविल कोर्ट से यथास्थिति बनाए रखने के लिए स्टे होने के बाद भी एक पक्ष को पुलिस प्रशासन की मदद से कस्बा इंचार्ज आशू यादव और उपनिरीक्षक सोमवीर सिंह ने मौके पर पहुंचकर पत्रकार के रखे हुए सामान को दुकान से बाहर दबंगों से निकाल कर बाहर डलवा दिया और दबंगों का उस दुकान पर ताला लगा कर कब्जा करा दिया इससे साफ जाहिर हो रहा है नवाबगंज पुलिस दबंगों की मदद कर रही है पुलिस से कुछ सांठगांठ कर पुलिस के बलबूते पर तीनों दुकानों पर किया कब्जा इसी उत्पीड़न से पत्रकार ने अपने आवास पर मकान बिकाऊ का बैनर लगा दिया है उसमें लिखा है नवाबगंज थाना पुलिस वह माफियाओं के उत्पीड़न से पलायन करने को मजबूर हैं संवाददाता लोहिया भूमि पत्रकार के साथ अन्याय हो रहा है जो आम जनमानस के साथ क्या होगा पत्रकार ने अपनी आत्महत्या करने के लिए भी पुलिस को ट्वीट के माध्यम से अवगत करा दिया है कि अगर मुझे अन्याय ना मिला तो हम अपनी आत्महत्या करने को मजबूर होंगे बताओ इस योगी के राम राज्य में कोर्ट के आदेश को ना मानते हुए पुलिस दबंगों के साथ खड़ी नजर आ रही है एक पत्रकार अपनी जान की बाजी लगाने को पुलिस और दबंगों की उत्पीड़न से परेशान है अब देखते हैं क्या नया मिलेगा

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *