आर्य समाज ने मनाया स्वामी दयानंद का जन्मोत्सव
Uncategorized | उत्तर प्रदेश | फ़र्रूख़ाबाद

आर्य समाज ने मनाया स्वामी दयानंद का जन्मोत्सव

  फर्रुखाबाद: वेद प्रचार मण्डल आर्यावर्त्त के तत्वावधान में भारतीय नवजागरण के पुरोधा व आर्य समाज के संस्थापक महान समाज सुधारक स्वामी दयानंद सरस्वती का 197 वां जन्मोत्सव आर्य समाज मंदिर लोहाई रोड में हर्षोल्लास पूर्वक मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ सामूहिक यज्ञ के द्वारा किया गया आर्य समाज के पुरोहित प. हरिओम शास्त्री ने…

Farrukhabad: जिला पंचायत चुनाव की बसपा ने की समीक्षा बैठक , जिला अध्यक्ष व‌ कानपुर सेक्टर प्रभारियों ने की शिरकत
उत्तर प्रदेश | फ़र्रूख़ाबाद | ब्रेकिंग न्यूज़

Farrukhabad: जिला पंचायत चुनाव की बसपा ने की समीक्षा बैठक , जिला अध्यक्ष व‌ कानपुर सेक्टर प्रभारियों ने की शिरकत

Farrukhabad:आज अमृतपुर विधानसभा की 19 सेक्टरों की समीक्षा बैठक देवेंद्र सिंह, अमृतपुर विधानसभा महासचिव के आवास पर हुई माननीय जिला अध्यक्ष नागेंद्र पाल जाटव ने की इसमें कानपुर मंडल के सेक्टर प्रभारियों ने भी भागीदारी की सेक्टर प्रभारी अमित गौतम शिव कुमार गौतम, आछेलाल पाल,राजकुमार गौतम, आदि लोगों के अलावा कई सेक्टरों के सेक्टर अध्यक्ष…

किसान यूनियन की फर्रुखाबाद युनिट ने प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन उपजिलाधिकारी के माध्यम से सरकार को दिया
उत्तर प्रदेश | फ़र्रूख़ाबाद | ब्रेकिंग न्यूज़

किसान यूनियन की फर्रुखाबाद युनिट ने प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन उपजिलाधिकारी के माध्यम से सरकार को दिया

भारतीय किसान यूनियन ने आज फर्रुखाबाद के नवाबगंज में प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी महोदय को दिया जिसमें निम्न प्रश्नों को मांग में रखा है भारतीय किसान के कार्यकर्ताओं व नेताओं ने प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन में कहा है कि आज देश के अंदर नगदी के भारी संकट से जूझ रहा है बुवाई के…

ग्राम वलोखर थाना नबावगंज में पशु पालक की 46 भेड़ों को लकड़बग्घा ने मार डाला, छः लाख का लगभग किया नुकसान
उत्तर प्रदेश | फ़िरोज़ाबाद | ब्रेकिंग न्यूज़

ग्राम वलोखर थाना नबावगंज में पशु पालक की 46 भेड़ों को लकड़बग्घा ने मार डाला, छः लाख का लगभग किया नुकसान

ग्राम वलोखर थाना नवाबगंज जनपद फर्रुखाबाद में एक घटना घटी है जिस घटना में ग्राम वलोखर निवासी गुरबख्श के यहां किसी आवारा जानवर ने उनकी भेड़ों पर हमला कर दिया भेड़ें रोज की तरह अपने स्थान पर थी जहां तवेले में बांधी जाती थी रोजाना की तरह वहां पर भेड़ों को खाना पीना देने के…